6/22/18

Heart health check up at home in Hindi | हृदय की क्षमता कैसे जाने

How to know about heart health
हमारा हृदय एक अजायब पंप है. जो रात-दिन लगातार ह्रदय को पंप करता रहता है. वो कभी भी आराम नहीं करता, उसके लिए आराम हराम है. अगर उसने आराम किया भी तो हमारा "हे राम" हो जाता है. हमारा हदय अमूल्य अवयव है और वह थोड़ा सा भी कमजोर हुआ तो कई सारी समस्याए  खड़ी हो सकती है. इंग्लिश में एक कहावत है की prevention is better than cure मतलब की बाढ़ आने से पहले ही पूर्व तैयारी कर लेना बेहतर है. अगर पहले से हमें हमरे ह्रदय की स्वस्थता के बारे में मालिम हो जाये तो हम कुछ उपचार कर सकते है और हमारी जान बचा सकते है.

हृदय की स्वस्थता का आधार उसकी धड़कन पर आधारित है. एक मिनट में हदय कितनी बार धबकता है उससे जाना जा सकता है की हमारा ह्दय कितना स्वस्थ है. चलो, हम अलग-अलग तरिके से और एक चोक्क्स मेथड से हमारे हदय की धङकन को चेक करते है और जानकारी पते है की हमारा ह्रदय यानि दिल कितना कमज़ोर है और कितना स्वस्थ है.



सबसे पहले आरामदायक स्थिति में बैठ जाइए. आप चेयर पर या सोफे पर या किसी भी जगह बैठ सकते है. आराम से बैठने के बाद एक गहरी सांस भर कर उसे बाहर निकले. अपने आपको थोड़ा सा रिलैक्स महसूस करे. अब यह आराम की स्थिति में आपको आपके हदय की धड़कन एक मिनट तक गिननी है. एक मिनट में जितनी धड़कन हुई उसे लिख ले.

अब नीचे फ्लोर पर अपने पैर को पीछे की और ले जा कर बैठे. वज्रासन की स्थिति में. चालीस से पचास सेकंड तक ऐसे बैठ ने के बाद खड़े हो जाइए और खड़े रहकर अपने हदय की धड़कन को एक मिनट तक गिने और उसे भी लिख ले.

बेड पर आराम से सो जाइए. अपने शरीर को एकदम रिलैक्स करें. ऐसी रिलैक्स स्थिति में साठ सेकंड तक सोने के बाद उठ कर अपने हदय की धड़कन एक मिनट तक गिने और उसे लिख ले.

इतना हो जाने के बाद ऊपर की तीनो पोजीसन में जितनी भी धड़कन हुई उसे जोड़ ले. कुल टोटल को २०० में से बाद करे. जो भी संख्या आएगी उसे दस से भाग दें. अब जो भी संख्या मिलेगी उससे आप पता लगा पाएंगे की आपका हदय कितना सक्सम और स्वस्थ है और कितना कमजोर है.


इस तरह जाने परिणाम;
- आपके हदय की धड़कन का रिजल्ट १ से ५ के बिच आया है तो आपके ह्दय की क्षमता सर्व श्रेष्ठ है.
- अगर ६ से १० के बीच आया है तो हदय की कायक्षमता सामान्य है.
- अगर ११ से १५ के बीच रिजल्ट आया है तो आपको सावधानी रखने की जरूरत है.
- और अगर रिजल्ट १५ से अधिक आया है तो आपको कोई अच्छे काडीयोलॉजिस्ट  की सलाह लेनी चाहिए और योग्य अपचार करवाना चाहिए.

दोस्तों, हम किसी को वैसे तो कोई मदद नहीं कर सकते लेकिन फिर भी आप मानव सेवा करना चाहते है तो यह उपयोगी पोस्ट को जरूर दुसरो को शेयर करे. एक मिनट का आपका सहयोग कई लोगो की जान बचा सकता है. धन्यवाद.

आपको ये रसप्रद पोस्ट पढ़ना भी अच्छा लगेगा...
आंखों की ये समस्या से निजात कैसे पाए

No comments:

Post a Comment