3/13/18

Train the Trainer Program for become a trainer | यह ट्रेनिंग से कैसे बनती है बढ़िया करियर

Train the trainer program for Midbrain
आज मे बात करने वाला हूँ एक ऐसी करियर के बारे में जो बढ़िया कमाई के साथ एक अलग पहचान और समाज में अच्छी इज्जत दिलाती है. जी हाँ.. में बात कर रहा हूँ ट्रेनिंग फील्ड के बारे में. ट्रेनिंग फील्ड आजके समय की मांग है. वैसे तो कई सारे टॉपिक पे ट्रेनिंग फील्ड में काम किया जा सकता है लेकिन में जो ट्रेनिंग की बात कर रहा हूँ वो कोई भी व्यक्ति ले सकता है और बढ़िया करियर बना सकता है. आइये विगत से जानकारी पाते है की कोन सी ट्रेनिंग लेकर अच्छी कमाई की जा सकती है.

कौन-कौन से टॉपिक पर ट्रेनिंग फील्ड में काम करना चाहिए:
वैसे तो वर्तमान समय में कई सारे टॉपिक पर काम किया जा सकता है; जैसे की बिज़नेस, डिजिटल मार्केटिंग, पेरेंटिंग, टीचर ट्रेनिंग, ऑनलाइन एअर्निंग, करियर गुइडेन्स, हेल्थ एंड वैलनेस, मंद पावर, मेमोरी पावर, मिडब्रेन एक्टिवेशन, मल्टी लेवल मार्केटिंग, लीडरशिप डेवलपमेंट इत्यादि. ऐसे तो कई सारे टॉपिक पर ट्रेनिंग फील्ड में अच्छी कारकिर्दी बनाई जा सकती है, लेकिन आज में बात करने जा रहा हूँ वो है मिडब्रेन एक्टिवेशन यानि ब्रेन डेवलपमेंट प्रोग्राम जो साइंटिफिक प्रोग्राम है और पुरे विश्व में चल रहा है और सो प्रतिशत परिणामलक्षी एवम सक्सेसफुल प्रोग्राम है.



क्या है ब्रेन एक्टिवेशन:
ब्रेन एक्टिवेशन प्रोग्राम मिड ब्रेन एक्टिवेशन के नाम से जाना जाता है. महँ वैज्ञानिक रॉजर स्पैरि ने लम्बे समय के अभ्यास के बाद साबित किया की मानव दिमाग दो हिस्सों में विभाजित होता है. राइट साइड वाला राइट ब्रेन और लेफ्ट साइड वाला लेफ्ट ब्रेन से जाना जाता है. दोनों दिमाग की कार्य क्षमता अलग-अलग होती है. ये दोनों दिमाग को जोड़ने वाला हिस्सा है उसे मिडब्रेन कहा जाता है. योग, प्राणायाम, मैडिटेशन एवम कुछ ब्रेन डेवलपमेंट एक्टिविटी से बच्चो का मिड ब्रेन एक्टिव होता है और ऐसा होने से उनकी जो पांच इन्द्रिया है वो भी एक्टिव हो जाती है; जिससे बच्चे अपनी बंद आँखों से भी स्पर्श करके कोई भी चीज के बारे में बता सकते है. अपने नाक से सूंघ कर भी कोई भी चीज के बारे में बता सकते है. बच्चे बंद आँखों से पढ़ सकते हिअ, कलर्स पहचान सकते है, खेल सकते है, चल सकते है, दौड़ सकते है और साइकिल भी चला सकते है. कोई भी चीज उसे सुंघा कर फिर छिपा कर रख दी जाये तो उसे धुंध भी सकते है. कई सारे बच्चे अपने पीछे राखी चीज को भी पहचान लेते है. सामान्य लोगो को यकीं आये ऐसी एक्टिविटीज बच्चे अपनी बंद आँखों से कर सकते है. शायद आपने भी टेलीविज़न या वीडियो में ऐसा देखा होगा या सुना होगा. अगर आपको भी मानने में नहीं रहा तो आपको में बता दू की यह बात सो प्रतिशत सच है और थर्ड ऑय एक्टिवेशन की वजह से यह सब होता है.



ब्रेन एक्टिवेशन से कौन-कौन से फायदे होते है:
ब्रेन एक्टिव हो जाने से लेफ्ट और राइट ब्रेन बैलेंस्ड हो जाते है, जिससे बच्चो की याददास्त बढ़ती है, आत्मा-विश्वाश बढ़ जाता है, एकाग्रता बढ़ती है, पढाई के दौरान याद रखा हुआ एग्जाम में ठीक तरह से रिकॉल कर सकते है, कल्पनाशक्ति बढ़ती है, पढाई में मन लगने लगता है, क्रिएटिविटी बढ़ जाती है और दूसरे भी कई सारे फायदे होते है यानि बच्चे सामान्य में से आल-राउंडर बन सकते है. मैंने आज तक कई सरे बच्चो को यह ट्रेनिंग दी है और आज वो सितारे की तरह चमक रहे है.

कितनी उम्र के बच्चों को यह ट्रेनिंग दी जा सकती है:
पांच साल से लेकर पंद्रह साल के बच्चों को यह ट्रेनिंग दी जा सकती है. विज्ञानं ने यह साबित कर दिया है की जीरो से लेकर पंद्रह साल तक हमारे ब्रेन में न्यूरॉन्स जनरेट होते है. पंद्रह साल के बाद यह प्रोसेस स्लो हो जाती है. वैसे तो जीरो से चार साल के बच्चो का दिमाग जयादातर विकसित हो जाता है. जब दिमाग में न्यूरॉन्स जनरेट हो रहे होते है उस दौरान यह ट्रेनिंग दी जाये तो सो प्रतिशत रिजल्ट मिलता है. जीरो से चार साल के बच्चे छोटे होने की वजह से वर्कशॉप के दौरान सब एक्टिविटीज ठीक तरह से कर नहीं पाते है, इसीलिए पांच साल से पंद्रह साल के बच्चो को यह ट्रेनिंग दे कर उनका ब्रेन एक्टिव किया जा सकता है. बड़े बच्चो की तुलना में छोटे बच्चो में यकीं आये ऐसा परिणाम मिलता है.



मिडब्रेन का वर्कशॉप कितने दिनों का होता है:
यह वर्कशॉप पांच दिनों का होता है. पहले दिन का समय सुबह नौ बजे से लेकर सैम छे बजे तक का रहता है, यानि पुरे दिन का वर्कशॉप होता है और बाद में चार दिन तक रोज के चार घंटे का समय रहता है.

ट्रेनर बनने के लिए क्या जरूरी होता है:
आपको पब्लिक स्पीकिंग का थोड़ा सा अनुभव होना चाहिए, या तो पब्लिक स्पीकिंग फील्ड में आगे बढ़ने  की चाहत होनी चाहिए. कोई एक्स्ट्रा क्वालिफिकेशन की जरूरत नहीं होती है. अगर आपकी सोच है की में भी कुछ कर सकता हूँ, में भी कुछ बन सकता हु, तो आप इस व्यवसाय में आगे बढ़ सकते हो. अगर आपको अपने आप में भरोषा है तो आप ट्रेनर बन कर इज्जत के साथ बहुत अच्छी इनकम कर पाते हो.



कितनी हो सकती है इनकम:
दुनिया के दूसरे देशों में मिडब्रेन एक्टिवेशन के वर्कशॉप की फी एकदम हाई होती है. भारत में यह वर्कशॉप की फी दस हजार से लेकर तिस हजार तक ली जाती है. आप आपके शहर के हिसाब से फी ले सकते हो. अगर आपके शहर की जनसँख्या ज्यादातर मिडल क्लास है तो आप मिनिमम दस हजार फी le सकते हो. अगर आप मिनिमम दस हजार फी लेते हो तो उस हिसाब से आपकी इनकम समझते है. समज लो, पहली बैच में सिर्फ दस विद्यार्थी है और एक विद्यार्थी की फी दस हजार है, तो एक लाख का कलेक्शन होता है. उसमे से आप बिस हजार खर्चे का निकल दो तो आपकी नेट इनकम अस्सी हजार होती है. आप हर महीना दो से तीन बैच आराम से कर सकते हो.



ब्रेन एक्टिवेशन की ट्रेनिंग कैसे ली जाये:
हमारा इंस्टिट्यूट जेम्स इंस्टिट्यूट पिछले कई सालो से इस फील्ड में सफलता के साथ काम कर रहा है. हमारा एक सक्सेसफुल प्रोग्राम है ट्रेन ट्रेनर वर्कशॉप और इस वर्कशॉप में हम ऐसे लोगो को ट्रेनिंग प्रोवाइड करते है जो सामान्य इंसान में से एक सफल ट्रेनर बनना चाहते है और अपना जीवन बदलकर अपने हर सपने पुरे करना चाहते है. आप भी हमारे इस प्रोग्राम में ज्वाइन हो कर एक सफल ट्रेनर बन सकते है. हम आपको सभी तरह की मदद करते रहेंगे.

कितने दिनों की होती है ट्रेनिंग:
ट्रेन ट्रेनर प्रोग्राम दो दिन का होता है. इसमें भी सुयबह नौ बजे से सैम के छः बजे तक का समय रहता है. दो दिन में आप प्रैक्टिकल ट्रेनिंग ले कर इस फील्ड में बहुत ही अच्छी करियर बना सकते हो. दो दिन के भाड़ भी आप भविष्य में फोन पर कभी भी मार्गदर्शन ले सकते हो. हम आपको सदैव मदद करते रहेंगे.



इस प्रोग्राम में ब्रेन एक्टिवेशन के अलावा और क्या सिखाया जाता है:
पहले दिन के दो सेशन ब्रेन एक्टिवेशन के रहते है और दूसरे दिन के दो सेशन बी बेस्ट यानि मेमोरी पावर और माइंड पावर की टेक्निक्स का सेमिनार है जो छठी से बारहवीं कक्षा के स्टूडेंट्स के लिए खास डिज़ाइन किया गया है. यह सेमिनार में बहुत ही अच्छा रिस्पांस मिल रहा है क्योकि यह सेमिनार बहुत असरकारक है. हैंडराइटिंग इम्प्रूवमेंट और पेरेंटिंग का भी बेसिक नॉलेज दिया जाता है.

संपर्क कैसे करे:
एक सफल ट्रेनर बन कर अच्छी करियर बनाने के लिए आप हमारा संपर्क हमारी -मेल आईडी जेमसिंसटीटूटे@जीमेल.कॉम के जरिये कर सकते हो. आप चाहे तो हमारे नंबर ९८२५०९९९३३ पर टेक्स्ट मैसेज या व्हाट्सप्प मैसेज भी भेज सकते है. आपका मेल या मैसेज मिलने के बाद हम आपका बहुत जल्द संपर्क करेंगे और दूसरी पूरी डिटेल आपको प्रोवाइड करेंगे. अगर आपको कोई प्रश्न है तो भी आप उसमे बता सकते है.

में चाहता हु की आप इस मजेदार फील्ड में आगे बढ़ कर इज्जत, मान-सम्मान और बढ़िया इनकम कमाए और आपके और आपके परिवार के सभी सपनो को पूरा करे. विश यू आल बेस्ट.

No comments:

Post a Comment