2/16/18

Who and what says against Cryptocurrency trading | Cryptocurrency के विरोध में कौन क्या कहता है


Cryptocurrency best advice
आज हम जानने वाले है की Cryptocurrency के विरोध में कौन और क्या कहता है, Who and what says against Cryptocurrency trading. बिटकॉइन एवम अन्य ऐसी करेंसी जो एक आभासी करन्सी है और कई सारे देशों के अर्थशास्त्री यह प्रचलित क्रिप्टोकरन्सी का विरोध कर रही है. थोड़े दिन पहले भारत के फाइनेंस मिनिस्टर अरुण जेटली ने भी बिटकॉइन ट्रेडर्स को चेतावनी दी है और इनकम टैक्स डिपार्टमेंट भी ऐसे निवेशकों को नोटिस भेज रहा है. कौन-कौन से देश में बिटकॉइन के विरोध में क्या कहा जाता है वो हम आज डिटेल से जानेगे, ताकी आप बिटकॉइन जैसी क्रिप्टो करेंसी में निवेश करे या नहीं वो जान पाए और सलामती के साथ निवेश करके होने वाले संभवित नुकशान से बच पाए.

बिटकॉइन के जरिए हो रही लेन-देन की जानकारी पाना मुश्किल होने की बजह से यह अदृश्य चलन का उपयोग काफी हद तक बढ़ रहा है. जो लोग बिटकॉइन का समर्थन कर रहे है उनका मानना है की आंतररास्ट्रीय स्तर पर हो रही पैसे की लेन-देन करने के लिए बिटकॉइन एक सरल रास्ता है; लेकिन जो लोग यह क्रिप्टोकरन्सी का विरोध कर रहे है उनका मानना है की बिटकॉइन से हथियार और ड्रग्स जैसे कारोबार करना आसान हो जायेगा. कुछ दिन पहले यु.एस. में एक ड्रग्स का कारोबार कर रही कंपनी को बंद कर दी गई क्यों की वो कंपनी बिटकॉइन के जरिये मॉल बेच रही थी.



अमेरिका की जानी-मानी फाइनेंसियल संस्था एफबीआई जैसी एजेंसि ने भी बताया की बिटकॉइन से गैरकानूनी एक्टिविटीज बढ़ सकती है, इसीलिए क्रिप्टो करेंसी में ट्रेडिंग विश्व के लिए बड़ा खतरा साबित हो सकता है.

चीन की पीपल्स बैंक ऑफ़ चाइना के डेप्युटी गवर्नर पान गोगसे ने चेतावनी देते हुए कहा है की एक दिन ऐसा आयेगा की बिटकॉइन की लॉस नदी में तैर रही होगी और सब लोग किनारे खड़े देख रहे होंगे.

भारत की रिजर्व बैंक ने तीसरी बार चेतावनी देते हुए कहा की बिटकॉइन या अन्य क्रिप्टोकरन्सी जैसे आभासी करन्सी से आर्थिक, ऑपरेशनल, क़ानूनी, गाहक सुरक्षा और सिक्योरिटी जैसी चीजों में पूरा जोखिम है. भारत की कई सारी बैंक बिटकॉइन एक्सचेंज पर से पैसे नहीं स्वीकार रही.

एशिया के बांग्लादेश और इंडोनेशिया की सेन्ट्रल बैंक ने बिटकॉइन पर हो रही लेन- देन पर प्रतिबंध लगा दिया है. डिसेम्बर में चीन ने भी बिटकॉइन एक्सचेंज बद कर दिया है. जर्मनी और फ्रांस जैसे देशो ने भी लोगो को चेतावनी दी है की क्रिप्टोकरन्सी जैसी आभाषी यानि अदृश्य चलन जोखिम से भरी अधकारयुकर दुनिया है



वर्तमान में यूरोप में क्रिप्टोकरन्सी का उपयोग दिन-प्रतिदिन बढ़ रहा है और ऐसी बात को लेकर यूरोप की बैंक को अब चिता सता रही है की बिटकॉइन की वजह से लोगो का ट्रेडिश्नल बैंकिंग से विश्वास न उठ जाये

वर्च्युअल करन्सी के बढ़ रहे मूल्यों को देखते उसमे निवेश करने के लिए लोग लालच में आ जाए वो आम बात है, लेकिन इसमें निवेश करना जोखमकारक है. अर्थशास्त्री के हिसाब से अगर किसी करन्सी की कीमत एक हजार प्रतिशत बढ़ सकती है तो पूरी संभावना है कि वो कभी भी आसमान से धरती पर आ सकती है. यह अदृश्य चलन भविष्य में इन्टरनेट की दुनियासे भी गायब हो सकता है. टेक केर एन्ड बी सेक इन्वेटर

मेरे खयाल से आपको ये आर्टिकल पढ़ना भी अच्छा लगेगा...
बिटकॉइन लवर्स सावधान... बैंकोंने कर दिया मना
बिटकॉइन जैसे दूसरे कॉइन में निवेश क्यों न करें
बिटकॉइन के अलावा और कौन सी डिजिटल करन्सी है?
रिलायंस जिओ ने जारी की चेतावनी

No comments:

Post a Comment