10/23/17

Should I invest in Bitcoin? Bitcoin online investment advice | बिटकॉइन में निवेश करें या नहीं

Bitcoin Investment
आज हम जानेंगे बिटकॉइन के बारे में कुछ जानकारी जो आपको पसंद आएगी, क्योकि आज-कल बहोत सारे लोग असमंजस में है की बिटकॉइन में निवेश करे या करे, बिटकॉइन ख़रीदे या ख़रीदे, आज में ऐसे ही सवालों को लेकर चर्चा करने वाला हूँ जिससे आप बिटकॉइन के बारे में अच्छी तरह निर्णय ले पाए.
  
बिटकॉइन एक डिजिटल वर्चुअल करेंसी है. जिसकी शुरुआत २००९ में हुई थी. तब से ले कर आज दिन तक बिटकॉइन में लेन-देन हो रही है. बिटकॉइन क्रिप्टो करेंसी से जाना जाता है. यह क्रिप्टो करेंसी एक ऐसी करेंसी है जिसे हम हमारी जेब में नहीं रख सकते, जिसे हम टच नहीं कर सकते, जिसे हम हमारी अलमारी में नहीं रख सकते और जिसे हम डायरेक्ट बैंक में जमा भी नहीं करा सकते. यह एक अदृश्य चलन है जो सिर्फ और सिर्फ ऑनलाइन एक दूसरे को बेच सकते है और कोई चीज खरीद सकते है. बिटकॉइन एक ऐसा कोइन है जो ऑनलाइन पेमेंट के जरिये उपयोग किया जाता है, मतलब -करेंसी है.
 

बिटकॉइन यानी क्रिप्टो करेंसी विश्व की सबसे महंगी डिजिटल करेंसी है. साल २००९ से ले कर आज दिन तक जिन लोगो ने बिटकॉइन में निवेश किया है वो लोगो ने लाखो-करोडो कमा लिए है. हजारो में निवेश करने वालो ने लाखो रूपये बना लिए है और लाखो में निवेश करने वालो ने करोडो कमा लिए है. आज-कल कई सारे लोग बिटकॉइन में निवेश कर रहे है या करना चाहते है. जो लोग रिस्क से नहीं डरते वो लोग बिना डरे बिटकॉइन में निवेश कर रहे है और जो लोग रिस्क नहीं उठाना चाहते और पैसे भी कमाना चाहते है वो लोग द्विधा में है की क्या करे. मैंने बिटकॉइन के बारे में बहोत एनालाइसिस किया और बा में यह आर्टिकल लिखा. जो लोग बिटकॉइन में निवेश करना चाहते है उन लोगो के लिए यह आर्टिकल बहोत ही मददरूप हो सकता है. चलो, विगत से जानकारी पाते है की बिटकॉइन में निवेश करे या नहीं और अगर करे तो क्यों करना चाहिए और अगर करे तो क्यों नहीं करना चाहिए.

बिटकॉइन के मूल्य में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी हुई है:
पिछले आठ साल में सोना, चांदी या अन्य मूल्यवान धातु के सामने बिटकॉइन कई गुना बढ़ चूका है. पिछले आठ साल में रुपया, डॉलर या यूरो जैसी करेंसी के सामने बिटकॉइन का मूल्य कई गुना बढ़ चूका है. पिछले आठ साल में शेयर या कोमोडिटी चीजों के सामने बिटकॉइन का मूल्य कई गुना बढ़ चूका है. बिटकॉइन की डिमांड दिन-प्रतिदिन बढ़ रही है. ऐसे में बिटकॉइन के नाम पर भारत में कई सारी मल्टी लेवल मार्केटिंग कम्पनिया भी खुल चुकी है, जो लोगो को उनके साथ जुड़ने का प्रयास कर रही है. थोड़े दिन पहले एबीपी न्यूज़ चैनलपर भी इससे जुडी खबरे आई थी की ऐसी कम्पनिया भारतमे बिटकॉइन के नाम पर धोखा कर रही है. कुल मिलाके बात करे तो ऐसी कंपनी जो हकीकत में सरकार में रजिस्टर्ड नहीं है और कोई लुभावनी लालच देकर कोई कोइन में निवेश करने के लिए लुभा रही है तो सावधान..! पहले उस कंपनी की पूरी तरह जाँच करे और बाद में निवेश करे. दूसरी चीज है की वर्तमान समय में बिटकॉइन का रेट कई गुना बढ़ चूका है, तो हो सकता है की कभी भी रेट एकदम डाउन हो जाये और अभी तक का मुनाफा हम गवा दे. फिर भी आप बिटकॉइन खरीदना चाहते हो तो कुछ राशि ऐसा सोच कर लगाए की वो सारे पैसे डूबने वाले है. मतलब की थोड़ा सा निवेश कर के  रिस्क ले सकते हो. एक बात ओर गंभीरता से समाज लो की आज तक आपने जितने पैसे बिटकॉइन से कमाए है वो सारे पैसे लालच में आ कर फिरसे बिटकॉइन में मत लगाए. दोस्तों, में आपको बिटकॉइन में निवेश करने के लिए मना नहीं कर रहा हूँ, लेकिन आपको सावधान कर रहा हु की फ्रॉड कंपनियों से बच कर रहे और बिटकॉइन का रेट काफी हद तक बढ़ चूका है तो वो कभी भी क्रैश हो सकता है तो सावधानी के साथ निवेश करे.



दूसरी चीज है कि आरबीआई ने बिटकॉइन नहीं खरीदने की सलाह दी है:
जापान जैसे पांच देशो में बिटकॉइन को सरकार की मान्यता मिल चुकी है यानि उन पांच देशो में बिटकॉइन मान्य करेंसी है. भारत में अभी तक सरकार ने बिटकॉइन को कोई मान्यता नहीं दी है यानी वर्तमान में भारत में बिटकॉइन आरबीआई मान्यताप्राप्त करेंसी नहीं है, इसी लिए वर्तमान समय में बिटकॉइन जैसी अदृश्य करेंसी में इन्वेस्ट करना जोखिम साबित हो सकता है. हलाकि भारत सरकार ने बिटकॉइन के बारे में जाँच करने के लिए एक कमिटी बनाई है और जाँच चल रही है. अगर भारत में भी बिटकॉइन को मान्यता मिलती है तो बिटकॉइन के जरिये पैसे कामना आसान हो जायेगा, लेकिन जब तक कमिटी का कोई निर्णय नहीं आता और आरबीआई की मान्यता नहीं मिलती तब तक बिटकॉइन में निवेश करना एक रिस्क हो सकता है.

तीसरी चीज है अनऑथोराइज्ड -वॉलेट:
बिटकॉइन कोई फिजिकल करेंसी नहीं है. अगर उससे कुछ खरीदना चाहते है तो -वॉलेट की तरह हम पेमेंट कर सकते है. -वॉलेट यानि जैसे की पेटीएम, भीम या कई इस तरह की ऍप्लिकेशन्स है जिसका उपयोग हम वॉलेट की तरह कर सकते है. यह सब वॉलेट को अथॉरिटी मिली हुई होती है और इसी लिए हम सलामत पेमेंट कर सकते है, जब की बिटकॉइन से पेमेंट करते है वो वॉलेट को किसी तरह की अथॉरिटी नहीं मिली होती है इसी लिए वो सलामत नहीं है. अगर वॉलेट हैक हो जाता है या तो पासवर्ड भूल जाते है तो हमारे सारे पैसे डूब सकते है. एक बात में और बता दूँ की में आपको डरा नहीं रहा हूँ, में आपको रियलिटी से वाकिफ कर रहा हु. बिटकॉइन एक डिज़िटल करेंसी है और उस पर कोई देश, सरकार या संस्था का कण्ट्रोल नहीं है. अगर भविष्य में बिटकॉइन बाजार से डिमॉनेटिस हो जाये तो कोई संस्था या सरकार आपको उनका वास्तविक मूल्य नहीं चुकायेगी. जैसे की भारत की नोट पर, उदहारण के तौर पर समज लो सो रूपये की या किसी भी नोट पर आरबीआई के गवर्नर लिखित गारंटी देते है की "में ग्राहक को सो रूपये वापिस देने का वचन देता हूँ." बिटकॉइन के मामले में ऐसा कुछ भी नहीं होता. फिर भी आप अगर जल्दी से ज्यादा मुनाफा कामना चाहते हो तो अभी वर्तमान में चल रहा है तो अपने रिस्क पर चालू ट्रैन में चढ़ सकते हो.



दुनिया में कहीं भी, किसी को भी पेमेंट भेजा जा सकता है:
बिटकॉइन की एक खास बात यह है की बिटकॉइन से पुरे विश्व में कही भी और किसी को भी हम ऑनलाइन पेमेंट भेज सकते है एवम पेमेंट रिसीव कर सकते है. इसका नेगेटिव पॉइंट यह है की हमनें पेमेंट किसे भेजा और कहा भेजा वो कोई ट्रेस नहीं कर पाता और यही वजह से बिटकॉइन से दो नंबर के कारोबारियों को शार्ट कट रास्ता मिल चूका है. आपको शायद याद ही होगा की जब थोड़े समय पहले साइबर अटैक हुआ था तब हैकर्स बिटकॉइन से पेमेंट वसूल कर रहे थे. इतना ही नहीं इससे आसानी से ब्लैक मनी को वाइट भी की जा सकती है. त्रासवादीओ को बिटकॉइन के जरिये आसानी से फण्ड भेजा जा सकता है, इससे त्रासवाद से जुड़े त्रासवादीओ को उनके गोल की ओर आगे बढ़ने में प्रोत्साहन मिल सकता है. और एक बात की आप बिटकॉइन से जो पेमेंट करते है उसके लिए आपको कोई आपको गॅरंटी नहीं दे सकता. समाज लो आपने किसीसे कुछ चीज खरीदी और आपने उसे ऑनलाइन बिटकॉइन से पेमेंट किया, अब बादमे उसने आपके साथ कोई धोखा किया, चीज जो आपने मंगाई थी वो डुप्लीकेट दे दी या कुछ भी आपके साथ गलत किया तो आप उसके अगेंस्ट कोई कम्प्लेन नहीं कर सकते. फिर भी वर्तमान में बिटकॉइन के माध्यम से लेन-देन होती है, जो सिर्फ एक-दूसरे के भरोसे से चल रही है. आप भी सामने वाली पार्टी पे भरोसा रख कर बिटकॉइन से पेमेंट कर सकते हो. हमारे साथ कोई चीटिंग होगी तब देखा जायेगा. वैसे भी कुछ पाने के लिए कुछ खोना भी पड़ता है. बहुत कम समय में कई गुना ज्यादा कमाना है तो थोड़ा सा रिस्क तो उठाना ही पड़ेगाकहा गया है की डर के आगे जीत है.



बिटकॉइन लेन-देन करने वाले एक्सचेंज के पास लीगल परमिशन है या नहीं वो जानना जरूरी है:
हम जो बिटकॉइन लेते है या बेचते है उसके लिए कोई कोई एक्सचेंज का उपयोग करते है. जैसे की अगर हमें शेयर्स खरीदना है तो हम एनएससी या बीएससी एक्सचेंज के जरिये खरीदते है या बेचते है. ये दोनों एक्सचेंज इसी लिए भरोसेमंद है क्योकि दोनों को सेबी की परमिशन मिली हुई है. ऐसे कोई भी एक्सचेंज शुरू करने के लिए सेबी की परमिशन लेनी जरूरी होती है. अगर करेंसी का ट्रेडिंग के लिए एक्सचेंज शुरू करना है तो आरबीआई की परमिशन लेनी जरूरी होती है. ठीक उसी तरह बिटकॉइन के ट्रेडिंग के लिए जो एक्सचेंज शुरू हुए है वो ऑथोराइज़्ड होना जरूरी है. आपको पहले जानना होगा की ऐसे एक्सचेंज जिसके जरिये बिटकॉइन की लेन-देन होती है वो लिगलाइज़्ड है या नहीं. गवर्नमेंट संस्था जैसे की सेबी या आरबीआई या अन्य कोई संस्था की परमिशन नहीं है तो हमारा निवेश शुन्य हो सकता है. ऐसे एक्सचेंज कभी भी बंद हो सकते है. अगर आपको पूरा भरोसा है की वर्तमान में बिटकॉइन ट्रेडिंग करा रहे एक्सचेंज पूरी तरह लीगल है तो आप बिटकॉइन में निवेश कर सकते हो.

दोस्तों, मैंने बिटकॉइन के निवेश पर कई दिनों तक अभ्यास किया और बादमें जो निष्कर्ष मेरे सामने आया वो मैंने यह आर्टिकल के जरिये आपके सामने रखा है. यह सब मेरे अपने विचार है. में आपको निवेश करने की या नहीं करने की सलाह नहीं दे रहा. आपको जो ठीक लगे उसमे निवेश कर सकते हो.

अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा और उपयोगी लगा हो तो आपके दोस्तों को भी जरूर शेयर करें. आप चाहते हो की ऐसे ही उपयोगी आर्टिकल की नोटिफिकेशन आपको नियमित मिलती रहे तो वीडियो के निचे सब्सक्राइब का बटन है उस पर क्लिक करे. आप आगे बढ़ो ऐसी मेरी शुभकामना.

बिटकॉइन से जुड़ा हिन्दी वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें.