8/25/17

ये शेयर्स में निवेश क्यों करना चाहिए, Why to invest in these best Indian stocks

शेयर बाजार एक ऐसा प्लेटफार्म है जिसमे निवेश करके सबसे अच्छा मुनाफा कमाया जा सकता है. वैसे तो निवेश करने के लिए कई सारी जगह है, जैसे की गोल्ड, सिल्वर, कॉमोडिटी, जमीं, दुकान या ऑफिस, मकान या किसी ओर जगह, लेकिन शेयर बाजार ही एक ऐसा प्लेटफार्म है जहा आपके निवेश के सामने कई गुना अच्छा रिटर्न मिल सकता है. इतना ही नहीं बहुत काम समय में ज्यादा मुनाफा कमाने के लिए भी शेयर मार्किट बढ़िया प्लेटफार्म है. शेयर मार्किट में निवेश करने का एक लाभ यह मिलता है की हम हमारे शेयर्स को जब चाहे तब बेच सकते है और जब चाहे तब ले सकते है. जब की प्रॉपर्टी में निवेश करने से ऐसा नहीं हो सकता. शेयर बाजार में उप-डाउन होता रहता है लेकिन कंपनी के बारेमें जानकारी पा कर निवेश करने से नुक्शानी का सामना नहीं करना पड़ता. में यह ब्लॉग में आपको उपयोगी जानकारी देता रहूँगा. आप ऐसी जानकारी इ-मेल के जरिये फ्री में पाना चाहते हो तो यह ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर कर ले. बाजु में सब्सक्राइब करने के लिए बॉक्स दिया गया है वह आपका मेल एड्रेस डालकर क्लिक करे.
आज में आपको बताने जा रहा हु कुछ ऐसे हॉट इंडियन शेयर्स जो आपको पैतालिश प्रतिशत तक रिटर्न दे सकता है. आप ये श्रेष्ट शेयर्स में निवेश करके बढ़िया मुनाफा कमा पाओगे. ये सब शेयर्स फ़ण्डामेंटली  स्ट्रॉन्ग है और अच्छे रिटर्न की पूरी सम्भावना है. अगर आपको मैंने बताये ये शेयर्स में मुनाफा हो तो पोस्ट के निचे कमेंट करके जरूर बताये. में आपको अच्छे से अच्छा इन्वेस्टमेंट आइडियाज देने की पूरी कोशिश करूँगा. आइये जानते है फंडामेंटली स्ट्रांग शेयर के बारेमे.

जेएसडब्ल्यू स्टील
स्टील की कीमतों में बढ़ोतरी से जेएसडब्ल्यू स्टील को फायदा होगा। चीन और यूरोप में स्टील की मांग में वृद्धि हुई है। जब हमारे देश में इन्फ्रा  पर खर्च बढ़ने से स्टील की डिमांड बढ़ जाएगी. कंपनी खर्च  कम करने पर भी काम कर रही है। इसीलिए जेएसडब्ल्यू स्टील को खर्च  में कमी, स्टील की मांग में बढ़ोतरी और बढ़ती कीमतों से फायदा होगा। यह शेयर में  २९० के लक्ष्य के साथ निवेश की सलाह दी जाती  है।

हिंदुस्तान जिंक
जिंक की कीमत पिछले 30 दिनों में 13% से अधिक बढ़ी है। जिनक की खान किसी भी मुद्दे के कारण बंद कर दिया गया है, इसलिए आपूर्ति प्रभावित हुई है। इसके अलावा आने वाले दिनों में जिनक की  मांग में वृद्धि की उम्मीद है। यह सब हिंदुस्तान जिंक को लाभ होगा। कंपनी के नतीजे अनुमान के मुताबिक नहीं आया  है लेकिन दृष्टिकोण सकारात्मक बन गया है। संपत्ति की गुणवत्ता अच्छी है यह स्टॉक 10 से 15 प्रतिशत तक बढ़ने की उम्मीद है। यह शेयर में  340 के लक्ष्य के साथ निवेश की सलाह दी जाती  है।

ओएनजीसी
ओएनजीसी भी देश के अलावा विदेशो में भी  कच्चे तेल की तलाश में है।  बढ़ती कच्चे तेल की कीमतों से भी यह कंपनी को लाभ होगा. जून तिमाही के परिणामों के अनुसार, ओएनजीसी के  कच्चे तेल और गैस उत्पादन में वृद्धि हुई है। इसलिए उत्पाद बढ़ने से और बढ़ती गैस की कीमतों से ओएनजीसी को लाभ होगा। ओएनजीसी में वृद्धि की संभावना है। कंपनी ने 2020 तक लगभग दो गुना गैस उत्पादन का लक्ष्य रखा है। यह शेयर में  201 के लक्ष्य के साथ निवेश की सलाह दी जाती  है।

जिंदल स्टील एंड पावर
जून तिमाही में
, कंपनी अपने घाटे को कम कर पाई है।
पिछले साल की पहली तिमाही में कंपनी का नुकसान 1238 करोड़ रुपये से घटकर 420 करोड़ रुपये हो गया है। इसके अलावा, कंपनी ने अब अंगुल स्टील प्लांट में उत्पादन शुरू कर दिया है। अगले तीन तिमाहियों में, कंपनी के उत्पादन में 50 प्रतिशत की वृद्धि होने की संभावना है। स्टील  की कीमत भी बढ़ रही है, इसलिए कंपनी की वृद्धि की संभावनाएं बढ़ गई हैं। यह शेयर में  201 के लक्ष्य के साथ निवेश की सलाह दी जाती  है।

दोस्तों, आशा रखता हु की यह उपयोगी जानकारी आपको बहुत अच्छी लगी होगी. अगर आप ये शेयर्स में निवेश करना चाहते हो तो कमेंट बॉक्स में जरूर बताये. अगर आप भी कोई ऐसी कम्पनी के बारे में जानते हो जो ज्यादा मुनाफा दे शेक तो कमेंट करकर  बताइये. यह जानकारी आपके दोस्तों को शेयर करना न भूले. अगर आप शेयर बाजार की टिप्स के बारे में हिंदी वीडियो देखना चाहते हो तो हमारी लोकप्रिय यूट्यूब चैनल कैसे बनाये पैसे को सब्सक्राइब कर लेना. यह चैनल पर बहुत ही बढ़िया वीडियो अपलोड किया जाता है.

8/24/17

केवल 500 के निवेश से कैसे बनाये 2 करोड़, How to make 2 Crore investing just 500 Rupees

शीर्षक पढ़कर ही शायद आप हैरान हो गए होंगे की सिर्फ ५०० रूपये का निवेश करके २ करोड़ रूपये कैसे बनाये जाते है. ऐसा हो ही नहीं सकता. सिर्फ फेंक रहा है. है ना? क्यों की आज के ज़माने में ५०० रुपया बहुत छोटी राशि मणि जाती है. ५०० रूपये में सिर्फ सिनेमा की एक टिकट ही आती है, तो २ करोड़ कैसे बन सकते है? दोस्तों, आपका मानना भी सही है, लेकिन यह बात भी पक्की है की आप सिर्फ ५०० रूपये का सिस्टम से निवेश करके आसानी से २ करोड़ राशि जमा कर सकते हो. आपको सिर्फ सिस्टम को समझना होगा की कैसे निवेश करे और कहा निवेश करे. इतना जान लेने के बाद आप भी मैंने लगोगे की है यार यह तो सही बात है.

आम आदमी आम तौर पर सोचता है कि पैसा बनाने के लिए पैसा होना चाहिए. कुछ हद तक यह सच है, लेकिन सौ प्रतिशत सच नहीं है. यदि आप सोचते हैं कि आपको 1 करोड़ या अधिक राशि बनाने के लिए अधिक पैसे बचाने होंगे, तो आप गलत हैं. आम तौर पर लोग इस तरह की सोच के कारण जीवन में बड़ा पैसा नहीं बना सकते. आप केवल 500 रुपये बचाकर ३० साल में 1.5 से 2 करोड़ का लाभ कमा सकते हैं. यदि नियोजन से निवेश किया जाता है, तो निवेश पर अच्छा रिटर्न मिलता है. चलो आज हम जानते है कि कैसे और कहा निवेश करके बहुत अच्छा रिटर्न प्राप्त किया जा सकता है. अगर आप यह फार्मूला को फॉलो करके निवेश करोगे तो आप बहोत अच्छा रिटर्न कमा पाओगे.

यह निवेश योजना आपके लिए बहुत आसान है. आप प्रति माह केवल 500 रुपये का निवेश शुरू कर सकते हैं. तो पहले साल में आप 6000 रुपये का निवेश करेंगे। बाद में आप प्रत्येक वर्ष 20% तक अपने मासिक निवेश में वृद्धि करते रहे. अगले साल में, आपका निवेश 600 रुपए होगा। इस प्रकार, हर वर्ष निवेश का 20% ज्यादा निवेश करके, आपका निवेश पांच साल में बढ़कर 1036 रुपये प्रति माह हो जाएगा और दसवे साल से आप का निवेश हर माह २५८० रुपये हो जायेंगे. आप चाहो तो ज्यादा निवेश से भी शुरुआत कर सकते हो.

जान लो कहा करे निवेश :
अगर आप एक दीर्घकालिक निवेश में निवेश करते हैं? इस मामले में, आप इक्विटी म्यूचुअल फंड में निवेश कर सकते हैं. क्रिसिल एएमएफआई इक्विटी फंड प्रदर्शन सूचकांक के अनुसार, एक निवेश श्रेणी के रूप में, इक्विटी म्यूचुअल फंड ने जून 2017 को समाप्त हुए पिछले 10 वर्षों में 11.56 प्रतिशत वार्षिक रिटर्न दिया है. आप भी इक्विटी म्यूचुअल फंड में निवेश करके अच्छा रिटर्न पा सकते हो.

आपको दीर्घ अवधि में निवेश करने से ये लाभ मिलेगा :
लंबी
अवधि के लिए निवेश करने से आपको कम्पाउंडिंग करने का लाभ मिलता है. कम्पाउंडिंग का मतलब है कि आपको पहले साल के निवेश पर किए गए निवेश पर जो रिटर्न मिलता है उसे दूसरे साल का निवेश और रिटर्न दोनोको जोड़ दिया जाता है और यह राशि पर रिटर्न मिलता है. ऐसे में लंबे समय के कंपाउंडिंग की वजह से आपकी राशि ज्यादा तेजी से बढ़ती है.

म्युचुअल फंड में निवेश वापसी की गारंटी नहीं देता है :
शेयर बाजार के जोखिम म्यूचुअल फंड पर लागू होते हैं. उस मामले में, निवेश करने से पहले आपको म्यूचुअल फंड स्कीम दस्तावेज़ को ध्यान से पढ़ना चाहिए. म्यूचुअल फंड में निवेश की गारंटी नहीं है कि आपको अपने निवेश पर 10%, 12% या 15% रिटर्न मिलेगा. आपकी किसी भी योजना में निवेश करने से पहले आपको योजना के प्रदर्शन को लंबे समय तक मूल्यांकन करना चाहिए। फंड की रैंकिंग और उनके फंड मैनेजर के रिकॉर्ड को जानने की जरूरत है.

सरकारी कम्पनी में जॉब के लिए आवेदन कैसे करे, How to apply for recruitment in Govt. compnies

सरकारी कम्पनी यूनाइट इंडिया इन्सुरन्स कंपनी लिमिटेड और इंटेलिजेंस ब्यूरो ने जॉब वैकेंसी निकाली है. यह ब्यूरो में अस्सिस्टेंट सेंट्रल इंटेलिजेंस अफसर ग्रेड २ (एक्सिक्यूटिव) के पद के लिए भर्ती की जा रही है. आइये जानते है इंटेलिजेंस ब्यूरो में अफसर की भर्ती के लिए आवेदन कैसे करे. यह ब्यूरो में कुल रिक्ति १३०० है और मासिक तनखा रु. ९३००-३४, ८०० + ग्रेड पे रु. ४२०० है.

लायकात : उमेदवार ने किसी भी शाखा में स्नातक किया है तो आवेदन भेज सकते है.

आयु सिमा : उमेदवार की उम्र दिनांक २-९-२०१७ के दिन १८ से २७ साल की होनी चाहिए.

परीक्षा कैसे ली जाएगी : प्रथम चरण की परीक्षा मे १०० अंक के जनरल अवेरनेस, क्वॉन्टिटेटिव एप्टीटुड, लॉजिकल/एनालिटिकल एबिलिटी एवं इंग्लिश लैंग्वेज के ऑब्जेक्टिव टाइप के प्रश्न पूछा जायेगा. अगर आप गलत जवाब देते हो तो 0.२५ अंक माइनस होगा. दूसरे चरण की परीक्षा में ५० अंक के डिस्क्रिप्टिव  प्रश्नपत्र में निबंध लेखन एवं इंग्लिश कॉम्प्रिहेंसन और प्रेसिस राइटिंग करना होगा. लिखित परीक्षा के बाद इंटरव्यू लिया जायेगा.

परीक्षा का केंद्र : परीक्षा का केंद्र राज्य के मुख्या शहर में रहेगा.

पजरिसा फी : परीक्षा फी रु. १००/- ऑनलाइन ओर ऑफलाइन पे कर सकोगे. परीक्षा फी स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया में चलन के जरिये भरनी होगी.

कैसे करे आवेदन : आवेदन करने के लिए www.mha.nic.in पर लोग इन हो कर ऑनलाइन फॉर्म भरना होगा. दिनांक २-९-२०१७ (समय २३:५९) तक आप आवेदन कर सकोगे.

यूनाइटेड इंडिया इन्सुरन्स कंपनी में जॉब का सुनहरा अवसर मिल रहा है. यह सरकारी कंपनी में कुल ४१४ रिक्तिया है. यह सब रिक्तिया में से जनरल उमीदवार के लिए २४८, अनु. जाती  के लिए ४७ एवं अन्य पिछड़े वर्ग (ओबीसी) के लिए ११८ रिक्तिया है. कुल ४१४ रिक्तिया में से ६ रिक्तिया विझ्युअल हैंडीकैप के लिए है और १२ रिक्तिया हियरिंग हैंडीकैप के लिए आरक्षित रहेगी.

लायकात : उमेदवार ने किसी भी शाखा में स्नातक किया है तो आवेदन भेज सकते है.

आयु सिमा : उमेदवार की उम्र दिनांक ३०-६-२०१७ के दिन १८ से २८ साल की होनी चाहिए यानि उमीदवार का दिनांक १-७-१९८९ पहले और दिनांक ३०-६-१९९९ के बाद जन्म नहीं होना चाहिए.

परीक्षा कैसे ली जाएगी : पहले चरण में प्रिलिम परीक्षा में  टेस्ट ऑफ़ इंग्लिश लैंग्वेज के ३०, रीजनिंग के ३५ एवं न्यूमरिकल अलीबीटी के ३५ सवाल पूछे जायेंगे. दूसरे चरण की ऑनलाइन मुख्या परीक्षा में टेस्ट ऑफ़ रीजनिंग के ४०, इंग्लिश लैंग्वेज के ४०, जनरल अवेयरनेस के ४०, कंप्यूटर नॉलेज के ४०, न्यूमरिकल एबिलिटी के ४० सवाल पूछे जायेंगे. पहले चरण की प्रिलिम परीक्षा संभावित दिनांक २२-९-२०१७ एवं दूसरे चरण की मुख्या परीक्षा संभावित दिनांक २३-१०-२०१७ के दिन ली जाएगी.

परीक्षा का केंद्र : परीक्षा का केंद्र राज्य के मुख्या शहर में रहेगा.

परीक्षा फी : जनरल के लिए रु. ५००/- और अनु. जाती, अनु. जान जाती एवं हैंडीकैप के लिए रु. १००/-

कैसे करे आवेदन : आवेदन करने के लिए www.mha.nic.in पर लोग इन हो कर ऑनलाइन फॉर्म भरना होगा. दिनांक २८ -८ -२०१७ (समय २३:५९) तक आप आवेदन कर सकोगे.

दोस्तों, अगर आप चाहते हो की जॉब अलर्ट की जानकारी नियनित रूपसे आपको इ-मेल के जरिये आपको मिलती रहे तो यह ब्लॉग को सब्सक्राइब कर ले. सब्सक्राइब करने के लिए यहाँ टॉप पर दायी ओर सब्सक्राइब का बॉक्स दिया गया है, उसमे आपका इ-मेल एड्रेस लिख कर क्लिक करे.

8/18/17

जानलेवा स्वाइन फ्लू से कैसे बच सकते है, Swine Flu symptoms, home remedies and prevention

जानलेवा स्वाइन फ्लू वर्तमान में तहलका मचा रहा है. सुबह वर्तमान पत्र हाथमे लेते है और पढ़ना शुरू करते है तो सबसे पहला न्यूज़ स्वाइन फ्लू का होता है. वर्तमान में गुजरात, महाराष्ट्र, कर्नाटक के आलावा इंडिया के कई सारे राज्यों में स्वाइन फ्लू का रोग फ़ैल रहा है. कई सरे मरीज को हॉस्पिटल में दाखिल किये गए है. २०१७ का  यह सबसे बड़ी गंभीर घटना है. आयुर्वेद में एक कहावत है, उपचार से अच्छा है की रोग को ही न होने दे. Prevention is better than cure. थोड़ी सी सावधानी रखने से हम और हमारा परिवार यह जानलेवा गंभीर बीमारी से बच सकते है. वैसे भी स्वाइन फ्लू से डरना नहीं चाहिए क्योकि स्वाइन फ्लू के उपचार मौजूद है और समय पर इलाज किया जाये तो हम स्वाइन फ्लू से निजात पा सकते है. फिल्म स्टार आमिर खान को भी स्वाइन फ्लू हुवा था और इलाज कराने से वो एकदम स्वस्थ हो चूका है. हमें स्वाइन फ्लू से डरना नहीं है, बस उसे समझना है और केयर लेनी है. आइये जानकारी पाते है घरेलु देसी उपचार करके कैसे बचे स्वाइन फ्लू से.

स्वाइन फ्लू क्या है :
स्वाइन फ्लू का वायरस सूअर के जरिये इन्सान के शरीर में एंटर होते है. आमतौर पर पशुओं और पालतू जानवरों को होने वाले वायरस के हमले कभी इंसानों तक नहीं पहुँचते.  इसकी वजह यह है कि जीव विज्ञान की दृष्टि से इंसानों और जानवरों की बनावट में फर्क है. अभी देखा यह गया था कि जो लोग सूअर पालन के व्यवसाय में हैं और लंबे समय तक सूअरों के संपर्क में रहते हैं, उन्हें स्वाइन फ्लू होने का जोखिम अधिक रहता है.

कैसे फैलता है स्वाइन फ्लू के वायरस :
स्वाइन फ्लू बेहद संक्रामक  रोग है. स्वाइन फ्लू का प्रभाव एक व्यक्ति से  व्यक्ति तक जल्द फैलता है. जब कोई स्वाइन फ्लू का मरीज छींकता है या खांसता है तब स्वाइन फ्लू के वायरस भी उनके शरीर से बहार निकलते है और यह वायरस हवामें २४ घंटो तक रहता है. ये हवामे रहे वायरस अगर साँस के जरिये कोई व्यक्तिके के शरीर में प्रवेशते है तो वो व्यक्ति भी स्वाइन फ्लू का शिकार बन जाता है. 

स्वाइन फ्लू के क्या है लक्षण :
स्वाइन फ्लू के लक्षण यानि स्वाइन फ्लू सिम्पटम्स भी सामान्य एन्फ्लूएंजा के लक्षणों की तरह ही होते हैं। बुखार, तेज ठंड लगना, गला खराब हो जाना, मांसपेशियों में दर्द होना, तेज सिरदर्द होना, खाँसी आना, कमजोरी महसूस करना आदि लक्षण इस बीमारी के दौरान उभरते हैं। इस साल इंसानों में जो स्वाइन फ्लू का संक्रमण हुआ है,वह तीन अलग-अलग तरह के वायरसों के सम्मिश्रण से उपजा है। फिलहाल इस वायरस के उद्गम अज्ञात हैं।

स्वाइन फ्लू से बचने के घरेलु उपाय :
रोज सुबह खली पेट दो लहसुन की कलियाँ खाइए.

रोज एलोवेरा जूस का सेवन करे. इससे रोगप्रतिकारक शक्ति बढ़ती है और स्वाइन फ्लू के वायरस से बचने में हमारी सहायता करेगा.

रोज हल्दी मिलकर दूध पिए या पानी में हल्दी मिलाके पिए. हल्दी में करक्यूमिन होता है जो स्वाइन फ्लू से बचने में मददरूप होता है. 

आँवला का जूस पिए. आँवला में विटामिन सी होता है जो स्वाइन फ्लू से बचने में मदद करता है.

रोज सुबह तुलसी के पत्ते खाये. तुलसी के पत्ते खाने से इम्युनिटी बढ़ती है.

कपूर के छोटे टुकड़े को आलू या केले के साथ मिलाकर खाए. महीने में एक बार यह प्रयोग करना पर्याप्त है.

थोड़ी सी इलाइची, कपूर और तुलसी के पत्ते को मिक्स करके कपडे के टुकड़े में बांध कर रखें और रोज पांच से छे बार सूंघे. ऐसा करने से स्वाइन फ्लू के वायरस से आप प्रभावित नहीं होंगे.

रोज तीन से चार नीम के पत्ते खाये जो आपको स्वाइन फ्लू से बचाएगा.

रोज निम्बू पानी पिए. नीम्बु में भी आँवला की तरह विटामिन सी होता है जो स्वाइन फ्लू से  बचाने में हमारी मदद करता है.

दोस्तों, आ उपयोगी पोस्ट को आपके सभी दोस्तों और रिस्तेदारो को शेयर करे. अगर आप स्वाइन फ्लू से बचने  घरेलु उपाय के बारे में हिंदी वीडियो देखना चाहते हो तो यहाँ क्लिक करे. यह वीडियो भी दुसरो को शेयर  करे.

8/14/17

बासी रोटी से कैसे मिल सकता है स्वास्थ्य लाभ, Health benefits of stale bread

क्या आप बासी रोटी फेंक देते हो? तो अब जानलो बासी रोटी से कैसे मिल सकता है स्वास्थ्य लाभ. हम जो खाना बनाते है उसमे से थोड़ासा तो बच ही जाता है और उसे हम फेंक देते है. गाँवमे लोग बासी रोटी कुत्ते को या गौ को खिला देते है. यह एक अच्छी बात है, लेकिन शहर में तो ये भी नहीं हो सकता और इसी लिए बासी रोटी को फेंक देते है. वैसे भी हम यह मानते है की बासी खुराक नहीं खाना चाहिए. आयुर्वेद भी बासी खुराक नहीं खाने की सलाह देता है और वो सही भी है. बासी खुराक खाने से कई सारे हेल्थ प्रोब्लेम्स खड़े हो सकते है. लेकिन एक रिपोर्ट के अनुसार चोक्कस नियम के साथ बासी रोटी हमारे स्वस्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होती है. ऐसी रोटी खाने से कई तरह हेल्थ बेनिफिट्स मिलते है, जो जानकर आपको ताज्जुब होगा. आइये जानते है बासी रोटी खाने से कौन से स्वास्थ्य लाभ होते है.

बासी रोटी खाने से हाई ब्लड प्रेशर, एसिडिटी और शुगर जैसी बीमारी से राहत मिलती है. आज के समय की सबसे बड़ी समस्या ये तीनो बीमारिया है. बदलते समय के साथ हम बहुत कुछ भूल रहे है. हमारे पारम्परिक खान-पान को हम भूल रहे है. हम हमारी सांस्कृतिक रहन-सहन भूल रहे है. आयुर्वेदा के जो महत्वपूर्ण सूत्र है उसे भी भूल रहे है. दूसरी और आजकी दवाई से पकाई फसलें, केमिकल से पकाये हुए फल और सब्जिया और मसाले की जगह केमिकल का हो रहा उपयोग की वजह से आज के समय में ज्यादातर लोग कोई न कोई बीमारी के शिकार हो चुके है और हो रहे है. ओके, आइये जानते है इन तीनो बीमारी में बासी रोटी कैसे मददरूप होती है और कैसे खाये.

अगर आप हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से परेशान हो तो बासी रोटी आपके उच्च रक्तचाप को कन्ट्रोल में रखने के लिए मदद करेगी. हाई ब्लड प्रेशर के लिए यह उत्तम घरेलु उपचार साबित होगी. ऊंच रक्तचाप के लिए रोज सुबह दो बासी रोटी को ठन्डे दूध में मिलाकर खाये. ऐसा करने से आपका ब्लड प्रेशर नियंत्रण में रहेगा. और अगर आपको High BP का प्रॉब्लम नहीं भी है तो कभी होगा नहीं.

सामान्य तौर पर सुबह का नास्ता सभी को करना चाहिए. सुबह का नास्ता करने से कई बार गैस्ट्रिक प्रॉब्लम हो जाता है. यह गैस्ट्रिक की तकलीफ में भी बासी रोटी मददरूप होती है. अगर आप सुबह उठकर  रोटी दूध के साथ खाते हो तो आपको यह समस्या नहीं सताएगी. इतना ही नहीं रातका बचा हुआ भोजन का  उपयोग भी हो जायेगा. अगर आपको गैस की समस्या है तो रातके भोजन के लिए रोटी बनाते वक्त स्पेशल सुबह के नास्ता के लिए एक्स्ट्रा रोटी बना ले और सुबह दूध के साथ खाये.

एसिडिटी आज के समय की सामान्य बीमारी बन चुकी है. ज्यादातर लोग एसिडिटी की समस्या से परेशान है. आजके समय में तीखी और तली हुई चीजे खाने का फैशन चल रहा है. जंक फ़ूड आजकी आम खुराक बन  चूका है. सॉफ्ट ड्रिंक का सेवन या ज्यादा चाय-कॉफ़ी एसिडिटी का कारन हो शकता है. एसिडिटी कभी भी हो सकती है. जब एसिडिटी होती है तब हम परेशान हो जाते है. इससे तनाव और शुगर जैसी बीमारियों का सामना करना पड सकता है. अगर ऐसा होता है तो सुबह दूध के साथ बासी रोटी खाने से शुगर नियंत्रित रहेगा. बासी रोटी पेट की कोई भी तकलीफ ले लिए फायदेकारक होती है. पेट से जुडी कोई भी समस्या है तो दूध और बासी रोटी जरूर खाये.

बासी रोटी खाने से पहले आपको थोड़ी सी सावधानी भी रखनी होगी. आयुर्वेदा के अनुसार बासी चीज खानी नहीं चाहिए, इससे कई सारी समस्या खड़ी होती है. अगर आप रोटी और दूध खाना चाहते हो तो आपको यह बात का ख्याल रखना होगा की रोटी ज्यादा वक्त पहले न बनायी हो यानि रोटी ज्यादा बासी नहीं होनी चाहिए वरना तकलीफ हो सकती है. रात के वक्त बनाई रोटी सुबह खा सकते हो, लेकिन दोपहर को बनायीं रोटी दूसरे दिन सुबह नहीं खानी चाहिए. अगर ज्यादा बासी होगी तो फायदे की जगह नुकशानी होगी. सावधानी के साथ यह उपचार आजमाए और हेल्थ बेनिफिट्स पाइये.

यह उपयोगी आर्टिकल दूसरे लोगो को शेयर जरूर करे ताकि वो लोग भी यह प्रयोग करके स्वस्थ रह सके. ऐसे ओर उपयोगी आयुर्वेदिक घरेलु उपचार के बारेमे लेख पाने के लिए यह ब्लॉग को सब्सक्राइब करले ताकि जब भी में नया आर्टिकल पोस्ट करू तब आपको नोटिफिकेशन मिल जाये. आप स्वस्थ जीवन जिओ ऐसी मेरी शुभकामना.

8/13/17

क्यों सस्ते हो जायेंगे सभी मोबाइल कॉल्स? Why will be cheap all phone calls?

क्यों सस्ते हो जायेंगे सभी मोबाइल कॉल्स? जानकर ख़ुशी हुई ना? क्यों नहीं, जबसे बाजार में जिओ सिम कार्ड आया है तबसे उपभोक्ता को सस्ता कॉल्स और सस्ता इंटरनेट मिल रहा है. सामान्य इंसान भी अब इंटरनेट वपरासकर्ता बन चूका है. रिलायंस जिओ ने बाजार में तहलका मचा दिया है. रिलायंस ४जी मोबाइल भी चर्चा का विषय बना हुआ है. वर्तमान में फ़ोन कॉल्स सस्ते दाम में मिल रहा है. आने वाले दिनों में फ़ोन कॉल्स और इंटरनेट ओर भी सस्ता होने वाला है, क्योकि टेलीकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया यानि ट्राई इंटरकनेक्शन चार्ज में कटौती करने की पूरी संभावना है. अगर ऐसा हुआ तो रिलायंस जिओ, एयरटेल, वोडाफोन, आईडिया और सभी टेलीकॉम कम्पनिया की सेवा के रेट कम हो जायेगा.

ट्राई इंटरकनेक्ट चार्ज कम करती है तो इससे सभी तरह के कॉल्स एकदम सस्ते हो जायेंगे. ट्राई के अध्यक्ष आर. एस. शर्मा को एक पत्र में भर्ती इंटरप्राइजेज के चेयरमैन सुनील मित्तल ने लिखा है की "इंटरकनेक्ट यूसेज चार्ज यानि आईयूसी की मौजूदा दर पहले से ही लागत से काफी कम है." लक्ष्मी मित्तल ने कहा है की इसकी दर निष्पक्ष और पारदर्शी तंत्र द्वारा तय की जाय. कॉल रेट कम  हो ऐसा एयरटेल नहीं चाहता.

वर्तमान समय में इंटरकनेक्ट चार्ज १४ पैसे प्रति मिनट है. यह वर्तमान रेट को आईडिया सेल्युलर और भर्ती एयरटेल जैसी टेलीकॉम कम्पनिया बढाकर ३० पैसे करना चाहती थी. इतना ही नहीं यह चार्ज को वोडाफोन ३४ पैसे करना चाहती थी. एकमात्र रिलायंस जिओ ऐसा चाहता था की यह इंटरकनेक्ट यूसेज चार्ज को खत्म कर दिया जाये. वर्तमान में एक गुड न्यूज़ आया है की ट्राई यह चार्ज को घटाकर जो वर्तमान में १४ पैसे है उसे १० पैसे करने जा रहा है. अगर यह चार्ज १० पैसे हो गया तो मोबाइल फ़ोन कॉल्स काफी सस्ता हो जायेगा. रिलायंस जिओ  जैसी सर्विस फोगट के दाम में मिल सकती है. दूसरी टेलीकॉम कम्पनिया को भी जिओ को टक्कर देने  के लिए अपने कॉल रेट को घटना ही होगा.

आइये जानते है क्या होता है इंटरकनेक्ट यूसेज चार्ज यानी आईसीयू. आईसीयू चार्ज का मतलब होता है जो कोई एक कंपनी से दूसरी कंपनी के मोबाइल पर कॉल करने के बदले उस दूसरी कंपनी को पहली कंपनी की तरफ से जो चार्ज देना होता है. समज लो आप वोडाफोन के ग्राहक हो और आप जिओ पर कॉल करते हो तो वोडाफोन को रिलायंस जिओ को १४ पैसे आईसीयू देना होता है.

यह ४ पैसे की आईसीयू कटौती होती है तो कॉल रेट ४ पैसे काम हो सकता है. अगर अभी १५ पैसे में मिल रहा चक्क ११ पैसे हो सकता है. जो भी हो फायदा ग्राहक को मिलने वाला है. रिलायंस जिओ ने मार्किट में तहलका मचा दिया है. पहले से ही स्पर्धा जमी हुई है और यह चार्ज में आनेवाली कटौती और स्पर्धा कड़ी कर सकता है. हल एक के बाद एक टेलीकॉम कम्पनिआ कुछ न कुछ ऑफर दे रही है. अब देखना यह है की टेलीकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया यानि ट्राई इंटरकनेक्शन चार्ज में कटौती कब करती है और कितना करती है.

दोस्तों, यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों को जरूर शेयर करे और कमेंट करके हमारा उत्शाह भी बड़हन मत भूले. अगर कोई भूल हो तो भी हमें जरूर बताये ताकि हम उसे सुधर सके. ऐसे ओर नए ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में पाने के किये यह ब्लॉग को सब्सक्राइब करना मत भूले. राइट साइड में सब्सक्राइब के लिए बॉक्स दिया है उसमे अपना इ-मेल आईडी डालकर सबमिट करे. धन्यवाद्.